Ultimate magazine theme for WordPress.

Breaking

भिलाई महिला महाविद्यालय में ई-वेस्ट कलेक्शन एण्ड अवेयरनेस पर हुआ कार्यक्रम

0 168

ई-वेस्ट मैनेजमेंट की विभिन्न तकनीकों पर हुआ मंथन

भिलाई। भिलाई महिला महाविद्यालय में ई-वेस्ट कलेक्शन एण्ड अवेयरनेस पर कार्यक्रम हुआ। कार्यक्रम में विशेषज्ञ के रूप में भिलाई इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नॉलजी, दुर्ग के डिपार्टमेन्ट ऑफ अप्लाइड केमिस्ट्री के प्रोफेसर डॉ संतोष कुमार सार थे।

डॉ सार ने अपने उद्बोधन में प्रमुख रूप से ई-वेस्ट से पर्यावरण को हो रहे नुकसान का उल्लेख करते हुए ई-वेस्ट के संग्रहण के विभिन्न तरीकों और री-यूज करने के तरीकों पर बल दिया। भिलाई महिला महाविद्यालय की प्रिन्सिपल डॉ संध्या मदन मोहन ने उपस्थित छात्राओं को संबोधित करते हुए उन्हें ई-वेस्ट मैनेजमेंट हेतु प्रोत्साहित किया तथा इसकी विभिन्न तकनीकों पर भी प्रकाश डाला।

महाविद्यालय की ई-वेस्ट मैनेजमेंट की इंचार्ज डॉ मधुलिका श्रीवास्तव तथा श्रीमती पीसी क्लाडियस ने क्रमश: स्वागत भाषण तथा धन्यवाद ज्ञापन किया। कार्यक्रम का संचालन श्रीमती नंदिता खानरा द्वारा किया गया।

गौरतलब है कि हम अपने घरों और उद्योगों में जिन इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स सामानों को इस्तेमाल के बाद फेंक देते है, वहीं बेकार फेंका हुआ कचरा इलेक्ट्रॉनिक वेस्ट (ई-वेस्ट) कहलाता है। इनसे समस्या तब उत्पन्न होती है जब इस कचरे का उचित तरीके से कलेक्शन नहीं किया जाता। साथ ही इनके गैर-वैज्ञानिक तरीके से निपटान किए जाने की वजह से पानी, मिट्टी और हवा जहरीले होते जा रहे हैं। जो स्वास्थ्य के लिए भी समस्या बनते जा रहे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.