Ultimate magazine theme for WordPress.

Breaking

भिलाई महिला महाविद्यालय में शिक्षा-विभाग के समन्वय से “नया वर्ष नई उमंग” अंतर्महाविद्यालयीन प्रतियोगितायें, प्रदर्शनी एवं सेल का हुआ वृहद आयोजन

0 193

भिलाई। भिलाई एजुकेशन ट्रस्ट, भिलाई द्वारा हॉस्पिटल सेक्टर में संचालित भिलाई महिला महाविद्यालय में महाविद्यालय के शिक्षा विभाग के समन्वयन से “नया वर्ष नई उमंग” कार्यक्रम के अंतर्गत अंतर्महाविद्यालयीन प्रतियोगितायें, प्रदर्शनी एवं सेल का भव्य आयोजन किया गया। यह आयोजन हेमचंद यादव विश्वविद्यालय दुर्ग की कुलपति डॉ अरुणा पल्टा के मुख्य आतिथ्य में सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम में उद्घाटन अवसर पर भिलाई एजुकेशन ट्रस्ट के मैनेजिंग ट्रस्टी विजय कुमार गुप्ता, सुप्रसिद्ध महिला उद्यमी श्रीमती कनिका जैन व सुप्रसिद्ध समाज सेविका श्रीमती शशि गुप्ता की विशेष रूप से उपस्थिति रही।

भिलाई महिला महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ. संध्या मदन मोहन के निर्देशन व शिक्षा विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ. मोहना सुशांत पंडित के समन्वय से कार्यक्रम का शुभारंभ माँ सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्वलित कर किया गया।

इस अवसर पर कुलपति डॉ अरुणा पल्टा ने छात्राओं की हस्तनिर्मित वस्तुओं की सराहना की उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों की आगामी जीवन में स्व-व्यवसाय व स्व-रोजगार से जोड़ने के लिए इससे बेहतरीन कौशल विकास का प्रयास और कुछ नहीं हो सकता । उन्होंने प्रदर्शनी से क्रय करके विद्यार्थियों का उत्साहवर्धन किया ।

हेमचंद यादव विश्वविद्यालय के कुलसचिव भूपेन्द्र कुलदीप ने उद्घाटन अवसर पर उपस्थित हो अपने उद्बोधन में कहा कि हम संकल्प लें कि हम आज से नए वर्ष के साथ ही सकारात्मक दृष्टिकोण रखेंगे। उन्होंने प्रभावी कविता पाठ के माध्यम से उपस्थित प्रतिभागियों एवं छात्राओं का उत्साहवर्धन किया। छात्र कल्याण अधिष्ठाता डॉ. प्रशांत श्रीवास्तव, हेमचंद यादव विश्विविद्यालय ने भिलाई महिला महाविद्यालय की छात्राओं द्वारा प्रदर्शित कलाओं की प्रशंसा की और इनके शिक्षण एवं अनुशासन का श्रेय उन्होंने महाविद्यालय की प्राचार्या व शिक्षकों को दिया।

महिला उद्यमी व समाजसेविका श्रीमती कनिका जैन ने अपने उद्बोधन में छात्राओं को उद्यमिता के क्षेत्र में कदम बढ़ाने प्रोत्साहित किया तथा आयोजन की सराहना की। समाजसेविका श्रीमती शशि गुप्ता ने उपस्थित छात्राओं का मनोबल बढ़ाया तथा उद्यमिता के क्षेत्र में बढ़ने हेतु अपनी शुभकामनाएँ दीं।

प्रतियोगिताओं में निर्णायक के रूप में उपस्थित रिटा. डिस्ट्रिक्ट जज श्रीमती मैत्रेयी माथुर ने प्रदर्शनी के अवलोकन के दौरान सम-सामायिक विचारों पर चर्चा करते हुए भविष्य की तैयारी व स्वरोजगार व कम्पेटिटिव एग्जाम के लिए छात्राओं से मिलकर चर्चा व सुझाव दिया तथा उन्हें प्रोत्साहित किया।

भिलाई महिला महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ. संध्या मदन मोहन ने अपने सम्बोधन में कहा कि एनईपी में जिस तरह से कौशल को विकसित करने की बात की गई थी व इसे पाठ्यक्रम में समाहित किया गया है उसी के आधार पर हमारे महाविद्यालय में छात्राओं द्वारा यह प्रयास किया गया है। छात्राओं द्वारा महाविद्यालय में विगत दिनों किया गया पंद्रह-दिवसीय स्किल डेवलपमेंट कोर्स “कला संगम” इस दिशा में किया गया प्रथम स्टेप था।

शिक्षा विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ मोहना सुशांत पंडित द्वारा अपने सम्बोधन में कौशल विकास के लिए महाविद्यालय के शिक्षा विभाग द्वारा किए जा रहे निरंतर प्रयासों का उल्लेख करते हुए उनका विवरण प्रस्तुत किया गया। उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम “नया वर्ष नई उमंग“ का मुख्य उद्देश्य आसान और नए तरीकों के माध्यम से शिक्षा को आस-पास के वातावरण, स्वास्थ्य तथा समाज के लिए उपयोगी बनाने, जागरूकता फैलाने और जोड़ने का है। इस आयोजन में महाविद्यालय में विभिन्न प्रतियोगिताएं जैसे स्वास्थ्यवर्धक स्वल्पाहार,फ्लोरल ज्वेलरी, रंगोली, गर्म पेय-पदार्थ, सहायक शिक्षण सामग्री (वर्किंग मॉडल), पॉट डेकोरेशन आदि प्रतियोगिताएँ रखी गयीं थी। इसमें भिलाई-दुर्ग क्षेत्र के विभिन्न महाविद्यालयों जैसे- जीडी रुंगटा कॉलेज, भिलाई मैत्री कॉलेज, अपोलो कॉलेज, खालसा कॉलेज, डीएवी मॉडल कॉलेज आदि से प्रतिभागियों ने आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं में भाग लिया।

प्रतियोगिता के घोषित परिणामों में रंगोली में प्रथम स्थान जीडी रुंगटा कॉलेज से तुमन लाल, द्वितीय स्थान भिलाई महिला महाविद्यालय से सुमन नाग, तृतीय स्थान अपोलो कॉलेज से शालिनी लारिया, सांत्वना पुरस्कार डी.ए.वी कॉलेज से मानसी वर्मा को प्राप्त हुआ. फ्लोरल ज्वेलरी प्रतियोगिता में प्रथम स्थान जीडी रुंगटा कॉलेज से प्रियंका साहू, द्वितीय स्थान सृष्टि राजपूत, रुंगटा कॉलेज, तृतीय स्थान भिलाई महिला महाविद्यालय के ममता साहू, सांत्वना पुरस्कार प्रियदर्शिनी मण्डल भिलाई महिला महाविद्यालय को प्राप्त हुआ, शिक्षण सहायक सामग्री में प्रथम स्थान भिलाई महिला महाविद्यालय की दीप्ति देवांगन, द्वितीय स्थान जीडी रुंगटा कॉलेज के रोमांशु साहू , तृतीय स्थान निमिशा भिलाई महिला महाविद्यालय व सांत्वना पुरस्कार जीडी रुंगटा कॉलेज की शालिनी सिंह को प्राप्त हुआ।

पॉट डेकोरेशन में प्रथम स्थान अपोलो कॉलेज से वर्षा चक्रधानी, द्वितीय स्थान खालसा कॉलेज से जिज्ञासा साहू, तृतीय स्थान भिलाई मैत्री कॉलेज से विनय कुमार ठाकुर व सांत्वना पुरस्कार भिलाई महिला महाविद्यालय से आँचल देवांगन को प्राप्त हुआ । स्वास्थ्यवर्द्धक स्वल्पाहार में प्रथम स्थान भिलाई महिला महाविद्यालय से दीक्षा टंडन, द्वितीय स्थान भिलाई महिला महाविद्यालय से अमीषा शर्मा, तृतीय स्थान खालसा कॉलेज से भूनेश्वरी व सांत्वना पुरस्कार जीडी रुंगटा कॉलेज से बलजीत को प्राप्त हुआ । गर्म पेय पदार्थ में प्रथम स्थान भिलाई महिला महाविद्यालय से संगीता, द्वितीय स्थान रुंगटा कॉलेज से यशवनी, तृतीय स्थान खालसा कॉलेज से हेमा बघेल, सांत्वना पुरस्कार रुंगटा कॉलेज से रितु को प्राप्त हुआ व अन्य प्रतिभागी रश्मि देवांगन, रामकिशन, ज्योति वर्मा, पूजा पाण्डे, निधी, जयहेंद्र आदि प्रतिभागियों ने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया।

विभिन्न महाविद्यालयों व समाज से अपनी-अपनी कला व क्षेत्र में पारंगत निर्णायकगण जिसमें डॉ. मीनाक्षी अग्रवाल, श्रीमती विनीता गुप्ता, श्रीमती सुषमा श्री, डॉ. अमिता सहगल, श्रीमती मैत्रेयी माथुर, डॉ. विभा सिंह व भिलाई महिला महाविद्यालय से डॉ. सुनीता जी. राव, डॉ. निशा शुक्ला, डॉ मधुलिका श्रीवास्तव, डॉ. रूपम अजीत यादव, श्रीमती प्रतिभा छाया क्लाडियस एवं डॉ सरिता जोशी ने निर्णायक की भूमिका अदा की।

कार्यक्रम के सफल आयोजन में भिलाई महिला महाविद्यालय के बीएड विभाग की सहा. प्राध्यापिकाओं डॉ. हेमलता सिदार, भावना चौहान, नाज़नीन बेग, आशा आर्या, काकोली सिंघा, सत्यम मिश्रा व श्वेता पूरी आदि का योगदान रहा। महाविद्यालय के बी.एड प्रथम सेमेस्टर व तृतीय सेमेस्टर की अधिक से अधिक छात्राओं ने कार्यक्रम को सफल बनाने में अपना उल्लेखनीय योगदान दिया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.