Ultimate magazine theme for WordPress.

Breaking

पीजी कॉलेज ऑफ नर्सिंग में विश्व एड्स दिवस के अवसर पर हुआ आयोजन

0 253

भिलाई। एचआईवी एक प्रमुख सार्वजनिक स्वास्थ्य मुद्दा बना हुआ है जिसने दुनिया में बहुत बड़ी संख्या में लोगों को प्रभावित किया है। भारत में एचआईवी संक्रमण कम हो रहा है, लेकिन अभी भी देश में अनुमानित 24.01 लाख रोगी हैं, जिनमें 51,000 बच्चे शामिल हैं। डब्ल्यूएचओ वैश्विक नेताओं और नागरिकों से उन असमानताओं को साहसपूर्वक पहचानने और सामने लाने का करने का आह्वान कर रहा है जो एड्स को समाप्त करने में की जा रही कोशिशों और आवश्यक एचआईवी सेवाओं को मरीजों तक पहुंचाने में अवरोध का कार्य कर रही हैं।

भिलाई एजुकेशन ट्रस्ट द्वारा हॉस्पीटल सेक्टर में संचालित पीजी कॉलेज ऑफ नर्सिंग (पीजीकॉन), भिलाई हमेशा सामुदायिक जागरूकता पैदा करके और छात्रों के कौशल में सुधार करके प्रत्येक राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रमों में अपनी सेवाओं का योगदान देने में अग्रणी भूमिका निभाता आया है। इस संबंध में सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग विभाग द्वारा पीजीकॉन परिसर में विश्व एड्स दिवस का आयोजन किया गया। इस वर्ष की थीम “समानता” थी।

इस वर्ष की थीम का अनावरण करते हुए पीजी कॉलेज ऑफ नर्सिंग (पीजीकॉन) की प्रिंसिपल डॉ. प्रो अभिलेखा बिस्वाल ने अपने संबोधन में एचआईवी और इसकी रोकथाम से संबंधित सभी अवधारणाओं पर ध्यान केंद्रित किया और कर्मचारियों और छात्रों को उपलब्धता, गुणवत्ता बढ़ाने के लिए हमेशा काम करने के लिए प्रोत्साहित और प्रेरित किया। इसके साथ-साथ एचआईवी के लिए सेवाओं की उपयुक्तता बढ़ाने पर जोर दिया ताकि इससे संबंधित सभी को अच्छी सेवा मिल सके । इससे पूर्व कार्यक्रम में स्वागत भाषण डॉ. प्रो. श्रीमती जया चक्रवर्ती, (प्रोफेसर, सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग विभाग) ने दिया।

छात्राओं ने पोस्टर, स्लोगन और रंगोली प्रतियोगिताओं में उत्साहपूर्वक भाग लिया और इस अवसर पर बीएससी (नर्सिंग) तृतीय वर्ष की छात्राओं ने एक लघु नाटिका प्रस्तुत की।

एमएससी (नर्सिंग ) की छात्राओं द्वारा बीएससी (नर्सिंग ) द्वितीय और प्रथम सेमेस्टर की छात्राओं के लिए एचआईवी और एड्स के विभिन्न पहलुओं के बारे में जागरूकता पर एक सेमीनार का भी आयोजन किया गया।

श्रीमती नेहा आर एमानुएल (सहायक प्रोफेसर सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग विभाग) द्वारा धन्यवाद प्रस्ताव दिया गया था और कार्यक्रम का संचालन श्रीमती रिन्सी मैरी (सहायक प्रोफेसर सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग विभाग) द्वारा किया गया था।

एड्स दिवस के आयोजन में सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग विभाग की फैकल्टी डॉ जया चक्रवर्ती, श्रीमती चंद्रकला लिल्हारे, श्रीमती रिन्सी मैरी, श्रीमती नेहा आर एमानुएल, सुश्री दामिन साहू, श्रीमती अर्पणा बी मोहतेवार, सुश्री पूजा ठाकरे और श्रीमती किरण खिलारे का प्रमुख योगदान रहा। इसके अलावा एम.एससी. नर्सिंग अंतिम और पूर्व की छात्राओं ने समारोह के आयोजन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई जिसे कॉलेज की प्रिन्सिपल, प्राध्यापकों और छात्राओं ने प्रशंसनीय बताया।

पं. जवाहर लाल नेहरू चिकित्सालय एवं अनुसंधान केंद्र, सेक्टर 9, भिलाई में इस अवसर पर एक पोस्टर प्रतियोगिता भी आयोजित की गई, जिसमें पीजी कॉलेज ऑफ नर्सिंग की छात्राओं ने पुरस्कार जीते और नाटक का प्रदर्शन भी किया, जिसकी सराहना निदेशक प्रभारी (जेएलएनएचएंडआरसी), संयुक्त निदेशकों और नर्सिंग अधिकारियों तथा कर्मचारियों ने की।

Leave A Reply

Your email address will not be published.