Ultimate magazine theme for WordPress.

Breaking

भिलाई महिला महाविद्यालय के गृह विज्ञान विभाग में “अंतर्राष्ट्रीय एंब्रॉयडरी डे” के अवसर पर अंतर्महाविद्यालयीन एंब्रॉयडरी प्रतियोगिता का आयोजन

0 146

छात्राओं ने उत्साहपूर्वक लिया भाग, दीपिका बागे रहीं विजेता

भिलाई। भिलाई एजुकेशन ट्रस्ट द्वारा संचालित भिलाई महिला महाविद्यालय के गृह विज्ञान विभाग में “अंतर्राष्ट्रीय एंब्रॉयडरी डे” के अवसर पर अंतर्महाविद्यालयीन एंब्रॉयडरी प्रतियोगिता का आयोजन महाविद्यालय की प्रिन्सिपल डॉ संध्या मदन मोहन के निर्देशन एवं उत्साहवर्धन से महाविद्यालय के आएक्यूएसी के समन्वयन में किया गया। प्रतियोगिता का मुख्य उद्देश्य छात्राओं में भारतीय कशीदाकारी के प्रति रुचि जागृत करना तथा विभिन्न प्रकार की भारतीय कशीदाकारी की जानकारी प्राप्त करने छात्राओं में उत्साह निर्माण करना था। गौरतलब है कि कशीदाकारी तैयार करने से छात्राओं में जहां एक ओर एकाग्रता बढ़ती है वहीं दूसरी ओर रचनात्मकता का विकास भी होता है।

प्रतियोगिता मे प्रतियोगियों के रूप में 36 छात्राओं ने हिस्सा लिया। कशीदाकारी प्रतियोगिता के निर्णायक के रूप में भिलाई महिला महाविद्यालय की प्रिन्सिपल डॉ संध्या मदन मोहन, महाविद्यालय के शिक्षा विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ मोहना सुशांत पंडित एवं मिनीमाता गर्ल्स पॉलिटेक्निक राजनांदगांव की व्याख्याता डॉ सविता चौधरी थे।

इस प्रतियोगिता के निर्णय के अनुसार प्रथम पुरस्कार दीपिका बागे (एमएससी प्रथम सेमेस्टर टैक्सटाइल एंड क्लॉथिंग), द्वितीय पुरस्कार रिचा चौरसिया (सेकंड सेम) सीडीडीएम मिनीमाता गर्ल्स पॉलिटेक्निक, राजनंदगांव एवं तृतीय पुरस्कार कुंती वर्मा (बीएससी होम साइंस थर्ड ईयर) को मिला। सांत्वना पुरस्कार भिलाई महिला महाविद्यालय की जिज्ञासा चंद्राकर, केसरी साहू, वैशाली मेश्राम और कविता राजनांदगांव को मिला।

कार्यक्रम में गृह विज्ञान विभाग की विभाग अध्यक्ष डॉ सुनीता जी राव एवं विभाग के प्राध्यापक श्रीमती ज्योति चौबे, डॉ स्वर्णलता वर्मा, डॉ रूपम अजीत यादव, डॉ राजश्री चंद्राकर एवं डॉ सरिता नितिन जोशी ने सफल बनाने में अपना अमूल्य सहयोग दिया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.