Ultimate magazine theme for WordPress.

Breaking

पीजी कॉलेज ऑफ नर्सिंग में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर हुआ आयोजन

0 219

योग प्रशिक्षिकाओं ने विभिन्न योगासनों के माध्यम से शरीर को स्वस्थ रखने पीजीकॉन की छात्राओं तथा शिक्षिकाओं के मध्य योग के प्रति जागरूकता फैलायी

भिलाई। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर भिलाई के हॉस्पिटल सेक्टर में संचालित पीजी कॉलेज ऑफ नर्सिंग (पीजीकॉन, भिलाई) में कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस अवसर पर ज्ञानदर्श योगाश्रम कार्यसमिति, सेक्टर 10, भिलाई की योग प्रशिक्षिकाओं श्रीमती सीमा नाथ एवं श्रीमती गीता साठी के मार्गदर्शन में कॉलेज की छात्राओं और शिक्षिकाओं ने विभिन्न योगासन किए।

इससे पूर्व कार्यक्रम के प्रारंभ में पीजी कॉलेज ऑफ नर्सिंग की प्रिन्सिपल प्रो डॉ अभिलेखा बिस्वाल तथा वाइस-प्रिन्सिपल प्रो डॉ श्रीलता पिल्लई ने योग प्रशिक्षिकाओं श्रीमती सीमा नाथ एवं श्रीमती गीता साठी का महाविद्यालय की ओर से स्वागत किया। अपने स्वागत भाषण में प्रिन्सिपल डॉ अभिलेखा बिस्वाल ने उपस्थितजनों को विश्व योग दिवस के संबंध में जानकारी देते हुए उन्हें योग के माध्यम से अपने जीवन को स्वस्थ एवं भविष्य को बेहतर बनाने हेतु जागरूक किया।

आयोजित योग सभा में योग प्रशिक्षिकाओं श्रीमती सीमा नाथ एवं श्रीमती गीता साठी द्वारा विभिन्न योगासनों के माध्यम से इसके हमारे शरीर व स्वास्थ्य पर पड़ने वाले अनुकूल प्रभावों तथा इसके लाभ के संबंध में जानकारी दी गयी।

इनमें प्रमुख रूप से तिर्यक् भुजंगासन (पीठ के दर्द को दूर कर मेरुदंड को लचीला एवं स्वस्थ बनाने हेतु उपयोगी आसन), शलभासन (गर्दन व श्रोणि की सुदृढ़ता, तंत्रिका तंत्र एवं साईटिका तंत्रिकाओं को सशक्त बनाने हेतु उपयोगी आसन), कन्धरासन (पाचन क्रिया में सुधार, महिलाओं के प्रजनांगों को पुष्ट करने, मासिक धर्म की गड़बड़ी को ठीक करने, दमा तथा श्वसन नली एवं थायरॉईड संबंधी विकारों को दूर करने हेतु) एवं सूर्य नमस्कार (जिसमें सम्पूर्ण शरीर के अंगों का सुचारु रूप से समन्वयन करने) जैसे योगासनों एवं योग विधाओं का उपस्थित नर्सिंग छात्राओं एवं शिक्षिकाओं ने ज्ञानार्जन किया एवं प्रत्येक आसन की क्रियाओं को भली-भाँति समझा एवं सीखा।

आयोजन में पीजी कॉलेज ऑफ नर्सिंग की शिक्षिकाओं सहित भारी संख्या में कॉलेज की बीएससी नर्सिंग, एमएससी नर्सिंग तथा पोस्ट बेसिक बीएससी नर्सिंग कोर्स की छात्राओं ने अपनी सहभागिता प्रदान कर आयोजन को सफल बनाया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.