Ultimate magazine theme for WordPress.

Breaking

बीएससी नर्सिंग फाइनल ईयर के नतीजों में पीजी कॉलेज ऑफ नर्सिंग के स्टूडेंट्स का उत्कृष्ट प्रदर्शन

0 924

एकडमिक एक्सीलेंस और जॉब प्लेसमेंट के क्षेत्र में विगत तीन दशक से अधिक समय में संचालित पीजी कॉलेज ऑफ नर्सिंग रहा है सर्वश्रेष्ठ

अब तक पीजी कॉलेज ऑफ नर्सिंग (पीजीकॉन) की 4 प्रोफेसर्स को नर्सिंग शिक्षण-प्रशिक्षण के क्षेत्र के सर्वोच्च सम्मान “फ्लोरेंस नाइटेंगल अवॉर्ड” से राष्ट्रपति द्वारा किया जा चुका है सम्मानित, पीजीकॉन के नाम दर्ज है यह स्वर्णिम उपलब्धि

भिलाई। भिलाई एजुकेशन ट्रस्ट द्वारा जेएलएन हॉस्पीटल एंड रिसर्च सेंटर, बीएसपी सेक्टर 9 हॉस्पीटल के सहयोग से हॉस्पीटल सेक्टर में संचालित पीजी कॉलेज ऑफ नर्सिंग के स्टूडेंट्स ने बीएससी नर्सिंग फाइनल ईयर 2022 के हाल ही में घोषित नतीजों में उल्लेखनीय सफलता दर्ज कर फिर एक बार अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है।

कॉलेज की छात्राओं जिशी एलीना (77.04 %) ने प्रथम, ग्लोरी सूसन (73.29 %) ने द्वितीय, गुंजन तथा ऋतिका झा (72.89 %) ने संयुक्त रूप से तृतीय, आकांक्षा वर्मा (72.86 %) ने चतुर्थ तथा जी राजश्री (72.82 %) ने कॉलेज स्तर पर पांचवाँ स्थान प्राप्त कर एकडेमिक एक्सीलेन्स के क्षेत्र में कॉलेज का दबदबा इस वर्ष भी कायम रखा।

इसके अलावा जया (72.43 %), नेहा देशमुख (71.86%), ईशा ठाकुर (71.71 %), काजल देवांगन, यासमी (71 %), अर्चना पांडे (70.08 %) ने टॉप-10 में जगह बनाने में कामयाबी हासिल की। कॉलेज की फाइनल ईयर की 90 छात्राएँ फर्स्ट डिविजन से उत्तीर्ण हुईं।

भिलाई एजुकेशन ट्रस्ट के प्रमुख ट्रस्टी तथा पीजी कॉलेज ऑफ नर्सिंग के चेयरमेन विजय कुमार गुप्ता, भिलाई एजुकेशन ट्रस्ट के समस्त ट्रस्टीज तथा सेक्रेटरी, पीजी कॉलेज ऑफ नर्सिंग की प्रिन्सिपल प्रो डॉ अभिलेखा बिस्वाल, वाइस-प्रिन्सिपल प्रो डॉ श्रीलता पिल्ले तथा समस्त फैकल्टी मेम्बर्स ने कॉलेज की छात्राओं की इस स्वर्णिम उपलब्धि पर हर्ष व्यक्त करते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की है।

राज्य, देश तथा विदेश के टॉप हेल्थ-केयर इंस्टिट्यूट्स में पीजीकॉन के स्टूडेंट्स प्लेसमेंट प्राप्त कर अपने कॉलेज का नाम कर रहे रोशन

पीजी कॉलेज ऑफ नर्सिंग (पीजीकॉन) की प्रिन्सिपल प्रो डॉ अभिलेखा बिस्वाल ने बताया कि विगत वर्षों में पीजी कॉलेज ऑफ नर्सिंग की छात्राओं ने आयुष विश्वविद्यालय की नर्सिंग के विभिन्न कोर्सेस की मेरिट सूची में निरन्तर स्थान प्राप्त किया है जो की इस कॉलेज में प्रदान किये जा रहे उत्कृष्ट शिक्षण-प्रशिक्षण को दर्शाता है। उन्होंने बताया कि विगत वर्षों में रोजगारमुखी बीएससी नर्सिंग कोर्स का शिक्षण-प्रशिक्षण प्राप्त कर यहाँ के स्टूडेंट इन-कैम्पस तथा आउट-कैम्पस प्लैसमेंट्स के माध्यम से चयनित होकर प्रमुख रूप से स्टेट लेवल पर एम्स-रायपुर, जेएलएन हॉस्पीटल एंड रिसर्च सेंटर, बीएसपी सेक्टर 9 हॉस्पीटल-भिलाई, एम्स-रायपुर, मेकाहारा-रायपुर, नेशनल हेल्थ मिशन में सीएचओ के पद पर तथा इसके अलावा विभिन्न शासकीय अस्पतालों में, नेशनल लेवल पर मेदांता-गुड़गाँव, फोर्टिस व एस्कॉर्ट्स हॉस्पीटल-नई दिल्ली, बिरला हॉस्पीटल-कोलकाता, कोकिलबेन धीरुभाई अंबानी तथा बॉम्बे हॉस्पीटल-मुंबई, हैदराबाद स्थित अपोलो तथा मैक्स हॉस्पिटल्स, केआईआईएमएस-केरल, सेंट जोंस हॉस्पीटल बैंगलुरु सहित बीएमआरसी-भोपाल तथा भारत के विभिन्न राज्यों में संचालित रेल्वे हॉस्पिटल्स, ईएसआईसी हॉस्पिटल्स आदि में अपनी सेवाएँ दे रहीं हैं। विदेशों में सिंगापुर, इंग्लैंड, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, आयरलैंड, कनाडा तथा यूएई जैसे देशों के नामी हॉस्पिटल्स में भी पीजी कॉलेज ऑफ नर्सिंग के स्टूडेंट्स जॉब हासिल कर अपनी प्रतिभा का परचम लहरा रहे हैं। डॉ बिस्वाल ने बताया कि पीजीकॉन में स्टूडेंट्स के समग्र व्यक्तित्व निर्माण पर विशेष रूप से फोकस किया जाता है जिससे यहाँ के स्टूडेंट्स की प्रतिभा निखरकर सामने आती है।

गौरतलब है कि विगत तीन दशकों से अधिक समय से सफलतापूर्वक संचालित पीजी कॉलेज ऑफ नर्सिंग न सिर्फ ट्विनसिटी भिलाई-दुर्ग, बल्कि राज्य तथा देश के सर्वश्रेष्ठ नर्सिंग शिक्षण-प्रशिक्षण संस्थानों में अग्रणी स्थान पर है। वर्तमान में कॉलेज स्तर पर रोजगारोन्मुखी बीएससी नर्सिंग, एमएससी नर्सिंग तथा पोस्ट-बेसिक बीएससी नर्सिंग कोर्सेस का सफलतापूर्वक संचालन किया जा रहा है। पीजी कॉलेज ऑफ नर्सिंग में स्टूडेंट्स के शिक्षण-प्रशिक्षण के लिए अनुभवी प्रोफेसर्स का मार्गदर्शन, हाइटेक स्मार्ट क्लास रूम्स, अत्याधुनिक उपकरणों से लैस लैब्स, उत्तम एकडेमिक एनवायरनमेंट तथा बेहतरीन इन्फ्रास्ट्रक्चर, इन-कैम्पस हॉस्टल तथा हाइजेनिक मेस सुविधा उपलब्ध है। पीजीकॉन के नर्सिंग के स्टूडेंट्स को 1000 बेड वाले जेएलएन हॉस्पीटल एंड रिसर्च सेंटर बीएसपी सेक्टर 9 हॉस्पीटल में मेरिट के आधार पर इंटर्नशिप का अवसर प्राप्त होता है जिसके माध्यम से ये बेहतरीन कार्यानुभव हासिल करते हैं। इन्ही सभी वजहों से यहाँ के स्टूडेंट्स सघन शिक्षण-प्रशिक्षण से देश-विदेश के टॉप हेल्थ-केयर इंस्टिट्यूट्स में बेहतर जॉब हासिल करने में निरन्तर कामयाबी हासिल कर रहे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.