Ultimate magazine theme for WordPress.

Breaking

शिक्षाविद् डॉ. धीर झिंगरन पहुंचे रायपुर…छत्तीसगढ़ सरकार की तारीफ की : बाल दिवस को विशेष बनाने जवाहरलाल नेहरू राष्ट्रीय शिक्षा समागम में शामिल होंगे देश के जाने माने शिक्षाविद्

0 183

रायपुर। भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरु का बच्चों के प्रति अगाध प्रेम रहा है। उन्होंने बच्चों की शिक्षा के लिए अनेक कार्य किये हैं, इसीलिए उनके जन्म दिवस को पूरा देश बाल दिवस के रूप में मनाता है। छत्तीसगढ़ में इस दिवस को विशेष बनाने के लिए शैक्षिक महाकुंभ का आयोजन राष्ट्रीय शिक्षा समागम के रूप में किया जा रहा है। यह महाकुंभ छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मुख्य आतिथ्य में सम्पन्न होगा। कार्यक्रम में नोबल पुरस्कार विजेता डॉ. अभिजीत बनर्जी के साथ देश भर के जाने-माने शिक्षाविद बिराज पटनायक, नारायणन रामास्वामी, डॉ. धीर झिंगरन, यामिनी अय्यर, रुक्मिणी बनर्जी, मेकिन माहेश्वरी, प्रो ऋषिकेश बी.एस., मिताक्षरा कुमारी ने अपनी उपस्थिति की सहमति प्रदान कर दी है। कार्यक्रम में राज्य और देश में संचालित शैक्षिक नवाचारी गतिविधियों की प्रदर्शनी लगाई जाएगी। उल्लेखनीय है कि इस वर्ष राज्य में बाल दिवस को विशेष रूप में मनाने के लिए  शिक्षा महाकुंभ का आयोजन किया जा रहा है।

राष्ट्रीय शिक्षा समागम में शामिल होने उत्सुक हूं – डॉ. धीर झिंगरन

राष्ट्रीय शिक्षा समागम में शामिल होने आए शिक्षाविद् डॉ. धीर झिंगरन आज रायपुर पहुंचे। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में डिजिटल लिटरेसी में अच्छा काम हुआ है और पूरे राष्ट्र ने सराहा है। इस समागम में अन्य राज्यों के शामिल शिक्षाविद् अपने कार्यों की जानकारी देंगे, जिसे हम सभी को समझने का मौका मिलेगा। उन्होंने इस कार्यक्रम में सहभागिता के लिए छत्तीसगढ़ सरकार का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि वे इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए काफी उत्सुक हैं। डॉ. धीर झिंगरन लैंग्वेज एंड लर्निंग फाउंडेशन के संस्थापक निदेशक है। इनकी संस्था सरकारी प्राथमिक स्कूलों में बच्चों की मूलभूत शिक्षा में सुधार लाने के लिए कार्य करती है।

बिराज पटनायक शिक्षा समागम कार्यक्रम में शामिल होंगे। पटनायक नेशनल फाउंडेशन ऑफ इंडिया के कार्यकारी निदेशक है। आपकी संस्था ने भारत में मितानिन सामुदायिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता कार्यक्रम की स्थापना की है। शिक्षा समागम कार्यक्रम में शिरकत करने वाले नारायणन रामास्वामी, राष्ट्रीय लीडर शिक्षा और कौशल विकास के क्षेत्र में कार्यरत् है। वर्तमान में आप शिक्षा, कौशल विकास और सामाजिक क्षेत्र परामर्श सेवाएं दे रहे हैं। नारायणन रामास्वामी के नेतृत्व में उनकी टीम भारत, सार्क संगठन में शामिल देशों सहित मध्यपूर्व और अफ्रीकी क्षेत्रों में कार्य कर रही है।

यामिनी अय्यर नीति अनुसंधान केंद्र नई दिल्ली की अध्यक्ष है। आपकी संस्था सार्वजनिक नीति अनुसंधान में थिंकटैंक है। रुक्मिणी बनर्जी प्रथम एजुकेशन फाउंडेशन की प्रमुख कार्यकारी अधिकारी है। इन्होंने बच्चों के सीखने के परिणामों में सुधार के लिए साझेदारी को डिजाइन और समर्थन कर प्रमुख भूमिका निभाई है।


उद्यम संगठन के संस्थापक (ग्लोबल एलाइंस फॉर मास एंटरप्रेन्योरशिप) मेकिन माहेश्वरी ने उद्यम लर्निंग फाउंडेशन की शुरुआत की है। इन्होंने अपने कैरियर की शुरुआत याहू, फ्लिपकार्ट और विरिड बनाने से की, जो किताबों का सफल सोशल नेटवर्क है। प्रो. ऋषिकेश बी.एस., अजीम प्रेमजी विश्वविद्यालय में कानून और नीति के प्राध्यापक है। नीति आयोग में शिक्षा सलाहकार के रूप सेवाएं दे रहीं मिताक्षरा कुमारी भी शिक्षा समागम में भाग लेंगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.