Ultimate magazine theme for WordPress.

Breaking

बुधवार 3 नवम्बर 2021 : आज का अंक राशिफल और पंचांग

0 70

भिलाई डेस्क। ज्योतिष शास्त्र की तरह अंक ज्योतिष से भी जातक के भविष्य, स्वभाव और व्यक्तित्व का पता लगता है। जिस तरह हर नाम के अनुसार राशि होती है उसी तरह हर नंबर के अनुसार अंक ज्योतिष में नंबर होते हैं। अंकशास्त्र के अनुसार अपने नंबर निकालने के लिए आप अपनी जन्म तिथि, महीने और वर्ष को इकाई अंक तक जोड़ें और तब जो संख्या आएगी, वही आपका भाग्यांक होगा। उदाहरण के तौर पर महीने के 2, 11 और 20 तारीख को जन्मे लोगों का मूलांक 2 होगा। जानें कैसा रहेगा आपका बुधवार 3 नवम्बर 2021 का दिन –

This image has an empty alt attribute; its file name is WhatsApp-Image-2021-08-07-at-9.19.00-AM-1.jpeg

अंक 1

आज आपका दिन मिला जुला असर देने वाला रहेगा। कार्यक्षेत्र और व्यापार में वातावरण आपके अनुकूल कम ही रहेगा। नई योजनाओं पर कार्य आरंभ करना चाहते हैं तो किसी अनुभवी से सलाह अवश्य कर लें। सूझबूझ से निर्णय लें। परिवार का सहयोग मिलेगा। परिवार के साथ कहीं यात्रा पर जाने का कार्यक्रम बन सकता है। मौसम के बदलाव से आपका स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है।

अंक 2

आज आपका दिन खुशनुमा रहेगा। कार्यक्षेत्र और व्यापार में वातावरण आपके अनुकूल रहेगा। व्यापार में लाभ के अवसर सामने आएंगे। कार्यक्षेत्र में नई जिम्मेदारियां आपको सौंपी जा सकती हैं। आय के नए मार्ग बनेंगे। परिवार में खुशियों का वातावरण रहेगा। दांपत्य जीवन में मधुरता रहेगी। आपका स्वास्थ्य सामान्य रहेगा। पुराने मित्रों से मुलाकात संभव है।

अंक 3

आज आपका दिन उपलब्धियों भरा रहेगा। कार्यक्षेत्र और व्यापार में वातावरण आपके अनुकूल रहेगा। साथियों के सहयोग से मुश्किल कार्य भी बन सकेंगे। व्यापार में अचानक लाभ के अवसर सामने आएंगे। मानसिक रूप से प्रसन्न रहेंगे। परिवार का सहयोग मिलेगा। दांपत्य जीवन में मधुरता रहेगी। आपका स्वास्थ्य सामान्य रहेगा।

अंक 4

आज आपका दिन मिला जुला असर देने वाला रहेगा। निवेश करना चाहते हैं तो किसी अनुभवी से सलाह अवश्य कर लें। व्यापार में लाभ के अवसर कम ही सामने आएंगे। व्यापारिक प्रतिस्पर्धा की स्थिति से दूर रहें। परिवार के साथ कहीं यात्रा पर जाने का कार्यक्रम बन सकता है। विवादों की स्थिति से दूर रहे। वाणी और क्रोध पर नियंत्रण रखें। वाहन के प्रयोग में सावधानी बरतें।

अंक 5

आज आपका दिन खुशनुमा रहेगा। कार्यक्षेत्र और व्यापार में वातावरण आपके अनुकूल रहेगा। साथियों का सहयोग मिलेगा। अधिकारियों का सानिध्य प्राप्त होगा। नई योजनाओं पर कार्य आरंभ कर सकते हैं। व्यापार में लाभ के अवसर सामने आएंगे। भविष्य को लेकर नई योजनाओं पर कार्य आरंभ कर सकते हैं। परिवार का सहयोग मिलेगा। दांपत्य जीवन में मधुरता रहेगी।

अंक 6

आज आपका दिन उतार चढ़ाव भरा रहेगा। मन में किसी बात को लेकर आशंका बनी रहेगी। नई योजनाओं पर कार्य आरंभ न करें। बनते हुए कार्यों में बाधाएं आ सकती हैं। व्यापार में लाभ के अवसर कम ही सामने आएंगे। निवेश करना चाहते हैं तो किसी अनुभवी से सलाह अवश्य कर लें। परिवार में मतभेद हो सकते हैं। विवादों की स्थिति से दूर रहें। मानसिक तनाव आपको परेशान कर सकता है।

अंक 7

आज आपका दिन उपलब्धियों भरा रहेगा। कार्यक्षेत्र और व्यापार में वातावरण आपके अनुकूल रहेगा। साथियों के सहयोग से मुश्किल कार्य भी बन सकेंगे। व्यापार में अचानक लाभ के अवसर सामने आएंगे। व्यापारिक यात्रा पर जाना हो सकता है। परिवार में खुशियों का वातावरण रहेगा। दांपत्य जीवन में मधुरता रहेगी। मौसम के बदलाव से आपका स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है।

अंक 8

आज आपका दिन उतार चढ़ाव भरा रहेगा। कार्यक्षेत्र और व्यापार में वातावरण आपके अनुकूल कम ही रहेगा। कार्यक्षेत्र में विवाद की स्थिति बन सकती है। व्यर्थ के विवादों से दूर रहें। संयम से कार्य करें। व्यापार में लाभ के अवसर कम ही सामने आएंगे। व्यापारिक प्रतिस्पर्धा की स्थिति से दूर रहें। मानसिक तनाव आपको परेशान कर सकता है। वाहन के प्रयोग में सावधानी बरतें।

अंक 9

आज आपका दिन उतार चढ़ाव भरा रहेगा। कार्यक्षेत्र और व्यापार में वातावरण आपके अनुकूल कम ही रहेगा। बनते हुए कार्यों में बाधाएं आ सकती हैं। व्यापार में लाभ के अवसर कम ही सामने आएंगे। व्यापारिक प्रतिस्पर्धा की स्थिति से दूर रहें। विरोधी सक्रिय हो सकते हैं। परिवार में किसी का स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है। मानसिक तनाव आपको परेशान कर सकता है।

आज का पंचांग • बुधवार 3 नवम्बर 2021

शुभ पंचांग से जानिए आज के सभी शुभ-अशुभ मुहूर्त

3 नवंबर  2021 को पंचांग के अनुसार कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी की तिथि है. जानें शुभ मुहूर्त और आज का राहु काल

पंचांग के अनुसार आज के दिन कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी की तिथि है. इस दिन को छोटी दिवाली भी कहा जाता है. कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को नरक चतुर्दशी के नाम से भी जाना जाता है. 

धार्मिक मान्यता के अनुसार नरक चतुर्दशी के दिन यम के नाम से दीपदान भी किया जाता है. पौराणिक कथा के अनुसार नरक चतुर्दशी  के  दिन भगवान श्रीकृष्ण ने नरकासुर नामक राक्षस का वध किया था, इसलिए इसको नरक चतुर्दशी कहा जाता है. 

3 नवंबर 2021, बुधवार को कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी और चतुर्दशी  की तिथि का योग बना हुआ है. पंचांग के अनुसार प्रात: 9 बजकर 4 मिनट पर त्रयोदशी की तिथि का समापन होगा, इसके बाद चतुर्दशी की तिथि आरंभ होगी. कई क्षेत्रों में इस वर्ष नरक चतुर्दशी और लक्ष्मी पूजन कल 4 नवंबर को मनाया जायेगा.

3 नवंबर 2021 पंचांग
विक्रमी संवत्: 2078
मास पूर्णिमांत: कार्तिक मास
पक्ष: कृष्ण
दिन: बुधवार
तिथि: त्रयोदशी – 09:04:50 तक, चतुर्दशी – 30:06:05 तक
नक्षत्र: हस्त – 09:59:07 तक
करण: वणिज – 09:04:50 तक, विष्टि – 19:38:36 तक
योग: विश्कुम्भ – 14:52:17 तक
सूर्योदय: 06:34:09 AM
सूर्यास्त: 17:34:52 PM
चन्द्रमा: कन्या राशि – 20:54:26 तक
द्रिक ऋतु: हेमंत
राहुकाल: 12:04:31 से 13:27:06 तक (इस काल में कोई भी शुभ कार्य नहीं किया जाता है)
शुभ मुहूर्त का समय, अभिजीत मुहूर्त – कोई नहीं
दिशा शूल: उत्तर
अशुभ मुहूर्त का समय –
दुष्टमुहूर्त: 11:42:29 से 12:26:32 तक
कुलिक: 11:42:29 से 12:26:32 तक
कालवेला / अर्द्धयाम: 07:18:11 से 08:02:14 तक
यमघण्ट: 08:46:17 से 09:30:20 तक
कंटक: 16:06:47 से 16:50:50 तक
यमगण्ड: 07:56:44 से 09:19:20 तक
गुलिक काल: 10:41:55 से 12:04:31 तक

छोटी दिवाली आज, नोट कर लें पूजा का शुभ मुहूर्त और संपूर्ण पूजन विधि

देशभर में दिवाली का त्योहार धूमधाम के साथ मनाया जा रहा है। आज छोटी दिवाली है। छोटी दिवाली को काली चौदस, नरक चतुर्दशी या रूप चतुर्दशी आदि नामों से जाना जाता है। पौराणिक कथाओं के अनुसार, भगवान कृष्ण, काली और सत्यभामा ने इस दिन ही नरकासुर राक्षस का वध किया था। यह त्योहार जीवन में रोशनी और खुशियां लाने का प्रतीक है। छोटी दिवाली के दिन कुछ लोग हनुमान जयंती भी मनाते हैं। जानिए छोटी दिवाली पर पूजा का शुभ समय व दीपदान की टाइमिंग-

छोटी दिवाली का त्योहार आज 3 नवंबर 2021, दिन बुधवार को मनाया जा रहा है। हिंदू पंचांग के अनुसार, छोटी दिवाली पर पूजन का शुभ मुहूर्त सुबह 05 बजकर 40 मिनट से सुबह 06 बजकर 03 मिनट तक है। इसके साथ ही शाम को 05 बजकर 17 मिनट के बाद चतुर्मखी दीपक लाकर शांति और बुराई दूर करने की कामना की जा सकती है।

हनुमान जयंती पूजन मुहूर्त-

चतुर्दशी तिथि 3 नवंबर को सुबह 09 बजकर 02 मिनट पर शुरू होगी और 4 नवंबर को सुबह 06 बजकर 03 मिनट पर समाप्त होगी।

छोटी दिवाली पर क्यों किया जाता है दीपदान-

छोटी दिवाली के दिन शाम को घर के बाहर मृत्यु के देवता यमराज को दक्षिण दिशा में दीप दान किया जाता है। मान्यता है कि ऐसा करने से अकाल मृत्यु का भय नहीं रहता है। कहते हैं कि नरक चतुर्दशी के दिन सुबह स्नान करने के बाद भगवान कृष्ण की पूजा करने से सौंदर्य की प्राप्ति होती है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.