Ultimate magazine theme for WordPress.

Breaking

हिट विकेट हो गए सिद्धू…अगर नहीं माने तो कांग्रेस जल्द उठाएगी यह बड़ा कदम…इधर कैप्टन के बीजेपी जॉइन करने की अटकलें

0 175

नई दिल्ली (एजेंसी)। पंजाब कांग्रेस में नवजोत सिंह सिद्धू को प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा वापस लेने के लिए मनाने की कोशिश जारी है, पर सिद्धू के तेवर बरकरार हैं। वहीं, केंद्रीय नेतृत्व ने साफ कर दिया है कि वह सिद्धू को मनाने की कोशिश नहीं करेगा। सिद्धू प्रदेश नेताओं से बात कर अपना इस्तीफा वापस नहीं लेते हैं तो जल्द नए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष का ऐलान कर दिया जाएगा।

सिद्धू को उम्मीद थी कि उनके इस्तीफे के बाद पार्टी नेतृत्व उनसे संपर्क करेगा और उन्हें मनाने की कोशिश की जाएगी। पर पार्टी नेतृत्व ने उनके त्यागपत्र को ज्यादा महत्व नहीं दिया। सिद्धू के इस्तीफा देने के कई घंटे बाद पार्टी ने मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को उन्हें मनाने की जिम्मेदारी सौंपी। इसके बाद ही चन्नी ने सिद्धू से बात की और अपनी प्रेस कांफ्रेस में भी उन्हें परिवार का मुखिया बताया।

सूत्रों के मानें तो कांग्रेस नेतृत्व सिद्धू के इस्तीफा देने के फैसले से बेहद नाराज है। पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि सिद्धू ने जल्द अपना इस्तीफा वापस नही लिया, तो उनका त्यागपत्र मंजूर कर लिया जाएगा। नए अध्यक्ष पद के लिए तीन-चार नामों पर विचार किया जा रहा है। सिद्धू के त्यागपत्र वापस नहीं लेने की स्थिति में नए अध्यक्ष के नाम का ऐलान कर दिया जाएगा। क्योंकि, कुछ माह बाद पंजाब में चुनाव हैं।

पार्टी नेतृत्व चरणजीत सिंह चन्नी के काम करने के अंदाज को लेकर पार्टी खुश है। कांग्रेस के एक नेता ने कहा कि चन्नी को मुख्यमंत्री बनाते वक्त उन्हें जरुरी नियुक्तियों के लिए फ्री हैंड दिया गया था। क्योंकि, यह मुमकिन नहीं है कि मुख्यमंत्री अपनी पसंद और विवेक से नियुक्तियां नहीं कर पाए। इसलिए, पार्टी ने मुख्यमंत्री को सिद्धू को मनाने की जिम्मेदारी सौंपी है। मुख्यमंत्री ने भरोसा जताया है कि मामला सुलझ जाएगा।

कैप्टन के बीजेपी जॉइन करने की अटकलें


अमरिंदर सिंह ने जब पंजाब के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दिया तो उन्होंने पार्टी पर अपमान करने का आरोप लगाया था। तभी से कयास लगाए जा रहे थे कि कैप्टन अपनी इस बदनामी का बदला जरूर लेंगे। कैप्टन धीरे-धीरे अपने पत्ते खोल रहे हैं। उन्होंने इस्तीफा देने के बाद कहा था कि वह अपने विकल्प खुले रखे हैं। तभी से उनके बीजेपी में शामिल होने की अटकलें तेज हो गईं। अब अमित शाह से मुलाकात के बाद इसको और बल मिला है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.