Ultimate magazine theme for WordPress.

Breaking

भिलाई महिला महाविद्यालय के शिक्षा विभाग ने सात-दिवसीय सीटीईटी एवं सीजी टीईटी परीक्षाओं के लिए नि:शुल्क कोचिंग का किया आयोजन

0 485

भिलाई। भिलाई एजुकेशन ट्रस्ट द्वारा हॉस्पीटल सेक्टर में संचालित भिलाई महिला महाविद्यालय के डिपार्टमेंट ऑफ एजुकेशन के तत्वावधान में 19 से 26 अप्रैल 2022 तक सीटीईटी एवं सीजीटीईटी परीक्षाओं के लिए 7-दिवसीय नि:शुल्क कोचिंग का आयोजन किया गया। सेंट्रल टीचर एलिजबिलिटी टेस्ट (CTET) तथा छत्तीसगढ़ टीचर एलिजबिलिटी टेस्ट (CGTET) परीक्षाओं में सफलता प्राप्त महाविद्यालय की ही बीएड कोर्स की पूर्व तथा वर्तमान छात्राओं के सहयोग से इन कोचिंग कक्षाओं का आयोजन किया गया। 7-दिवसीय नि:शुल्क कोचिंग का उद्घाटन 19 अप्रैल को हुआ तथा समापन समारोह 26 अप्रैल को आयोजित था।

इस नि:शुल्क कोचिंग के दौरान कॉलेज की बीएड को पूर्व छात्राओं शकीबा, जागृति, खोमेश्वरी, प्राची दामले, सीमा साहू, अंजली लिल्हारे तथा वर्तमान में बीएड फोर्थ सेमेस्टर की छात्राओं शुभ्रा श्रीवास्तव, अंजना, गुलफ्शा, रुक्मणी, विभारानी, प्रीति देवांगन तथा मौसम इस प्रकार कुल 13 सफल छात्राओं द्वारा विभिन्न सत्रों में महाविद्यालय की वर्तमान में अध्ययनरत् बीएड सेकंड और फोर्थ सेमस्टर की छात्राओं को सेंट्रल टीचर एलिजबिलिटी टेस्ट (CTET) तथा छत्तीसगढ़ टीचर एलिजबिलिटी टेस्ट (CGTET) परीक्षाओं में सफलता के टिप्स दिए और साथ ही प्रश्नों को किस प्रकार शीघ्रता से कम समय में हल किया जाये इसके ट्रिक्स भी बताए। इसके अलावा इन परीक्षाओं से संबंधित विस्तृत जानकारी प्रदान की गयी। उपरोक्त नि:शुल्क कोचिंग में कॉलेज की सभी बीएड छात्राओं ने उत्साहपूर्वक हिस्सा लिया तथा परीक्षाओं को क्रैक करने के महत्वपूर्ण गुर सीखे।

कोचिंग कक्षाओं के समापन अवसर पर भिलाई महिला महाविद्यालय की प्रिन्सिपल डॉ संध्या मदन मोहन ने आयोजित कार्यक्रम की सराहना करते हुए ऐसे प्रशिक्षण कार्यक्रमों को करियर निर्माण के क्षेत्र में अत्यंत महत्वपूर्ण बताया तथा छात्राओं के उज्ज्वल भविष्य की कामना की। उन्होंने महाविद्यालय से बड़ी संख्या में इन परीक्षाओं में सफलता हासिल किए बीएड की अलुमनाई तथा वर्तमान छात्राओं को विशेष रूप से बधाई देते हुए उनकी सफलता को महाविद्यालय के लिए गौरव का विषय बताया। इस नि:शुल्क कोचिंग कार्यक्रम की संयोजक तथा महाविद्यालय के शिक्षा विभाग की हेड डॉ मोहना सुशांत पंडित ने बताया कि विभाग द्वारा भावी शिक्षकों को प्रेरित करने तथा समग्र व्यक्तित्व निर्माण हेतु निरन्तर अनेक कार्यक्रमों का आयोजन तथा एड-ऑन कोर्सेस संचालित किए जाते हैं जिससे बीएड की छात्राओं को भविष्य में करियर निर्माण के दौरान इसका भरपूर लाभ मिले। समापन कार्यक्रम का संचालन बीएड विभाग की सहा. प्राध्यापिका भावना द्वारा किया गया।

गौरतलब है कि CTET एक केंद्रीय अध्यापक पात्रता परीक्षा (Central Teacher Eligibility Test) होती है। इसका आयोजन केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, नई दिल्ली (Central Board of Secondary Education, New Delhi) द्वारा किया जाता है। इस परीक्षा का मुख्य उद्देश्य शिक्षक की अध्यापन की क्षमता (Teaching Ability) को परखना है। जो विद्यार्थी अध्यापक बनने का सपना देख रहे हैं उनके लिए इस परीक्षा का पास करना अनिवार्य है। वहीं सीजी टीईटी यानि छत्तीसगढ़ शिक्षक पात्रता परीक्षा (CG TET) छत्तीसगढ़ व्यावसायिक परीक्षा मंडल (CGPEB), रायपुर द्वारा आयोजित एक राज्य स्तरीय शिक्षण प्रवेश परीक्षा होती है। जो उम्मीदवार छत्तीसगढ़ के सरकारी या निजी स्कूलों में प्राथमिक या माध्यमिक विद्यालय के शिक्षकों के रूप में अपना करियर बनाना चाहते हैं, उन्हें अच्छे अंकों के साथ सीजी टीईटी को सफलतापूर्वक पास करना होता है। सीजी टीईटी परीक्षा के योग्य उम्मीदवार छत्तीसगढ़ के किसी भी सरकारी या निजी स्कूल में उच्च प्राथमिक शिक्षक और निम्न प्राथमिक शिक्षकों के पद के लिए आवेदन कर सकते हैं।

सात-दिवसीय प्रशिक्षण के आयोजन में बीएड विभाग की सहा. प्राध्यापिकाओं श्रीमती हेमलता सिदार, नाजनीन बेग, आशा आर्या, प्रीति बिझेकर, काकोली सिंघा, सत्यम मिश्रा का सहयोग रहा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.