Ultimate magazine theme for WordPress.

Breaking

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नन्द कुमार बघेल रायपुर जेल से हुए रिहा

0 157

10 हजार के मुचलके पर मिली जमानत

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नन्द कुमार बघेल की जमानत याचिका को रायपुर न्यायालय ने मंजूरी दे दी है। नन्दकुमार बघेल को 10,000 रुपये के मुचलके पर जमानत दी गयी है। प्रशासनिक कार्यवाही पूर्ण होने के उपरांत नन्द कुमार बघेल को शाम को रायपुर जेल से रिहा कर दिया गया। ये पिछले 3 दिनों से जेल में थे।

गौरतलब है की उत्तर प्रदेश प्रवास के दौरान नन्द कुमार बघेल ने ब्राम्हणों के खिलाफ आपत्तिजनक कमेंट्स किए थे जिसको लेकर प्रदेश सहित अन्य क्षेत्रों में नन्द कुमार बघेल के विरुद्ध अपराध दर्ज करने की मांग को लेकर शासन प्रशासन को इनके खिलाफ ज्ञापन सौंपा था। इसी सिलसिले में 4 सितम्बर को राजधानी रायपुर के डीडी नगर थाने में नन्द कुमार बघेल के खिलाफ मामला दर्ज किया था। आगरा से वापसी के दौरान राजधानी रायपुर से गई पुलिस टीम ने नन्द कुमार बघेल को गिरफ्तार कर रायपुर न्यायालय में प्रस्तुत किया था जहां नन्द कुमार बघेल ने जमानत लेने से इन्कार करते हुए उच्चतम न्यायालय तक जाने की बात कही थी। न्यायालय ने नन्द कुमार बघेल को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था।

उपरोक्त मामले में सोशल मीडिया और अन्य माध्यमों से आ रही खबरों पर की नन्द कुमार बघेल पर इसलिए कार्यवाही नहीं होगी क्योंकि वे मुख्यमंत्री के पिता हैं, उस वक्त स्पष्ट बयान जारी करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा था की सरकार में कोई भी कानून से ऊपर नहीं फिर चाहे वो मेरे 86 साल के पिता ही क्यों न हों। छत्तीसगढ़ सरकार हर जाति, हर धर्म, हर वर्ग, हर समुदाय के लोगों के सम्मान और उनकी भावनाओं की कद्र करती है। पिता नन्द कुमार बघेल द्वारा एक वर्ग विशेष के विरुद्ध की गयी टिप्पणी से सामाजिक सद्भाव को ठेस लगी है उनके इस बयान से मुझे भी दुख हुआ है, इस संबंध में पुलिस द्वारा विधिसम्मत कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी। उन्होंने पिता नन्द कुमार बघेल से वैचारिक मतभेद शुरू से होने और इस बात का सभी को पता होने की बात भी कही थी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा था – हमारे लिए कानून सर्वोपरी है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.