Ultimate magazine theme for WordPress.

Breaking

बीएचयू के प्रो. अशोक सिंह बने सरगुजा विश्वविद्यालय के कुलपति

0 202

भिलाई राज्यपाल एवं कुलाधिपति, संत गहीरा गुरु विश्वविद्यालय, सरगुजा अम्बिकापुर (छत्तीसगढ़) द्वारा छत्तीसगढ़ विश्वविद्यालय अधिनियम 1973 (क्रमांक 22 सन 1973) की धारा 13 की उपधारा (1) के अंतर्गत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए बीएचयू के प्रोफेसर अशोक सिंह को संत गहीरा गुरु विश्वविद्यालय, सरगुजा अम्बिकापुर (छत्तीसगढ़) का कुलपति नियुक्त किया गया है।

बीएचयू में हिन्दी विभाग के सेवानिवृत आचार्य और कला संकाय के पूर्व प्रमुख रहे प्रोफेसर अशोक सिंह की नियुक्ति के संबंध में सोमवार को राज्यपाल के सचिव की ओर से एक अधिसूचना जारी की गयी थी जिसके बाद दोपहर तक उन्होंने विश्वविद्यालय पहुँचकर कार्यभार भी ग्रहण कर लिया।प्रो. अशोक सिंह ने अपनी आरंभिक शिक्षा तिरुपति में प्राप्त की हुई है। उनके पिता डा.विजयपाल सिंह, वेंकटेश्वर विश्वविद्यालय में हिंदी के प्रोफेसर थे। डा. विजयपाल को जब बीएचयू में नियुक्ति मिली तो अशोक सिंह का भी बनारस आना हुआ। कालांतर में वह कला संकाय के डीन बने। पिता के नक्शेकदम पर चलते हुए प्रोफेसर अशोक सिंह ने भी कला संकाय के डीन का पद संभाला। प्रो. सिंह बीएचयू से हिंदी में स्नातक, पत्रकारिता में पीजी और आचार्य रामचंद्र शुक्ल के गद्य साहित्य विषय पर पीएचडी हैं । बीएचयू के गोल्ड मेडलिस्ट रहे प्रो. अशोक सिंह को वर्ष 1982 में बीएचयू में लेक्चरर पद पर नियुक्ति मिली और वे 1998 में प्रोफेसर बन गए। अमेरिका में हुई आठवीं विश्व हिंदी कॉन्फ्रेंस में उन्होंने भारत का प्रतिनिधित्व किया था। प्रो. सिंह की पत्नी प्रो. अनीता सिंह बीएचयू में ही अंग्रेजी की आचार्य हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.